एल्डोल संघनन अभिक्रिया किसे कहते हैं? समीकरण तथा उदाहरण

एल्डोल संघनन अभिक्रिया
4.1/5 - (14 votes)

दोस्तों स्वागत है आपका हमारी हिंदी केमिस्ट्री की इस वेबसाइट पर। आज के इस आर्टिकल में हम आपको एल्डोल संघनन अभिक्रिया किसे कहते हैं? एल्डोल संघनन अभिक्रिया की समीकरण क्या होती है? इसके बारे में विस्तार के साथ बताएँगे। इसके साथ साथ हम आपको एल्डोल संघनन अभिक्रिया के उदाहरण क्या होते हैं? इसके बारे में विस्तार के साथ बताएँगे। यह एक महत्वपूर्ण टॉपिक है। इस टॉपिक से सम्बंधित प्रश्न परीक्षाओं में पूछ लिए जाते हैं। इसलिए इस टॉपिक के बारे में केमिस्ट्री के सभी स्टूडेंट्स को पता होना चाहिए। एल्डोल संघनन क्या है? इसके बारे में जानने के लिए इस टॉपिक को अंत तक जरूर पढ़ें।

इससे पिछले आर्टिकल में हमने आपको रसायन विज्ञान के जनक कौन हैं? इसके बारे में विस्तार के साथ बताया। जो एक जो एक महत्वपूर्ण टॉपिक है। इस टॉपिक से सम्बंधित प्रश्न परीक्षाओं में पूछ लिए जाते हैं। यदि आपने अभी तक अभी तक इस महत्वपूर्ण टॉपिक को नहीं पढ़ा है। तो आप हमारी हिंदी केमिस्ट्री की इस वेबसाइट से इस टॉपिक को पढ़ सकते हैं। आज के इस आर्टिकल में हम आपको एल्डोल संघनन अभिक्रिया किसे कहते हैं तथा इसकी समीकरण क्या होती है? इसके बारे में विस्तार के साथ बताने वाले हैं। इसके साथ साथ हम आपको एल्डोल संघनन अभिक्रिया के उदाहरण क्या होते हैं? इसके बारे में विस्तार के साथ बताने वाले हैं। एल्डोल संघनन के बारे में विस्तार के साथ जानने के लिए इस आर्टिकल को अंत तक जरूर पढ़ें।

रासायनिक परिवर्तन किसे कहते हैं?

 एल्डोल संघनन अभिक्रिया किसे कहते हैं?

अल्फ़ा हाइड्रोजन युक्त एल्डिहाइड या कीटोंन तनु क्षार (10% NaOH) की उपस्थिति में आपस में क्रिया करके क्रमशा बीटा हाइड्रोक्सी एल्डिहाइड या बीटा हाइड्रोक्सी कीटोन का निर्माण करते हैं यह अभिक्रिया एल्डोल संघनन कहलाती है। या ऐसे कर्बोनिल यौगिक जिनमे अल्फ़ा हाइड्रोजन होता है NaOH, K2CO3 आदि की उपस्थिति में संघनित होते हैं। एल्डिहाइड संघनित होकर एल्डोल बनाता है। इस प्रकार से एल्डोल का निर्माण हो जाता है और इस अभिक्रिया को एल्डोल कहते हैं।

"</p

एल्डोल संघनन अभिक्रिया के उदाहरण

एल्डोल संघनन अभिक्रिया के उदाहरण निम्नलिखित हैं।

CH3CHO + CH3CHO ___तनु NaOH__>CH3CH(OH)CH2CHO

एल्डोल संघनन कार्बनिक रसायन विज्ञान में संक्षेपण अभिक्रिया होती है। इसे 1869 में रूसी रसायन वैज्ञानिक अलेक्जेंडर बोरोडिन द्वारा खोजा गया। और 1872 में इसे फ्रांसीसी रसायन वैज्ञानिक चार्ल्स एडोल्फ बुर्ट्ज द्वारा दी गयी प्रतिक्रिया दो कर्बोनिल यौगिकों को जोड़ती है। इस क्रिया में एल्डिहाइड व अल्कोहल होने के कारण इसे एल्डोल के नाम से जाना जाता है। एल्डोल संरचनात्मक इकाईयों को कई अणुओं में पाया गया है। एल्डोल प्रक्रिया का उपयोग हृदय रोग की दवा के निर्माण में किया जाता है। एल्डोल प्रतिक्रिया दो अपेक्षाकृत सरल अणुओं को एक अधिक जटिल अणु में जोड़ती है।

आधुनिक पद्धति एल्डोल प्रतिक्रिया को आगे बढ़ाने में सक्षम होने के साथ स्टीरियोसेंटरों के सापेक्ष और पूर्ण विन्यास दोनों को नियंत्रित करने में सक्षम होती है। एल्डोल प्रतिक्रिया दो अलग अलग प्रकार के तंत्रों के द्वारा आगे बढ़ सकती है। कीटोन तथा एल्डिहाइड जैसे कर्बोनिल योगिकों को एनोल या एनोल ईथर में बदला जा सकता है। इस प्रकार की प्रजातियाँ अल्फ़ा कार्बन पर न्युक्लियोफिलिक होने के कारण विशेष रूप से प्रतिक्रियाशील कर्बोनिल समूह पर हमला कर सकती है। ये एनोल या एनोल ईथर की तुलना में बहुत अधिक न्यूक्लिफ्लिक होते हैं। इसे एनोलेट प्रतिक्रिया कहते हैं।

Typical_aldol

एल्डोल प्रतिक्रिया का अम्लीय नियंत्रण

यदि इनमे से एक दूसरे की तुलना में अधिक अम्लीय होता है तब इनमे सबसे अधिक आधार अम्लीय प्रोटोन आधार द्वारा सारणीकृत होता है। उस कर्बोनिल पर एक एनोलेट बनता है जबकि वह कर्बोनिल जो कम अम्लीय प्रकार का होता है आधार से प्रभावित नहीं होता है। इस प्रकार का नियंत्रण केवल तभी काम करता है जब अंतर काफी अधिक होता है।

क्रॉस एल्डोल संघनन

इससे ऊपर के आर्टिकल में हमने आपको एल्डोल संघनन अभिक्रिया किसे कहते हैं? तथा इसके उदाहरण के बारे में विस्तार के साथ बताया है। अब हम आपको क्रोस एल्डोल संघनन के बारे में विस्तार के साथ बताते हैं। जब दो भिन्न भिन्न एल्डिहाइड या कीटोनो अथवा एक एल्डिहाइड व एक कीटोन के मध्य कास्टिक क्षार की उपस्थिति में अभिक्रिया कराते हैं। तो उसे क्रोस एल्डोल संघनन अभिक्रिया कहते हैं।

उदाहरण- एक formaldehyde को Acetaldehyde के साथ अभिकृत करने पर क्रॉस एल्डोल उत्पाद बनता है।

CH3-CH=O + CH3-CO-CH3 ___________> CH3-CH=CH-CO-CH3 + H2O

क्रॉस-एल्डोल प्रतिक्रियाशील नियंत्रण

ऊपर के लेख में हमने आपको एल्डोल संघनन अभिक्रिया किसे कहते हैं? एल्डोल संघनन अभिक्रिया का उदाहरण क्या होता है? इसके बारे में विस्तार के साथ बताया है। इसके साथ साथ हमने आपको क्रोस एल्डोल संघनन किसे कहते हैं इसके बारे में विस्तार के साथ बाताया है। अब हम आपकोक्रॉस-एल्डोल प्रतिक्रियाशील नियंत्रण के बारे में विस्तार से बताते हैं। जब असम्मित कीटोन के मिश्रण को संघनित किया जाता है तब हम चार उत्पादों का अनुमान लगा सकते हैं। इस प्रकार यदि क्रॉस उत्पादों में से कोई एक उत्पाद प्राप्त करना चाहता है। तो उसे यह नियंत्रित करना होगा कि कौन सा कार्बोनिल नुक्लियोफिलिक एनोल बन जाता है।

-Aldol_control

जैविक एल्डोल प्रतिक्रिया

इससे ऊपर के आर्टिकल में हमने आपको एल्डोल संघनन अभिक्रिया किसे कहते हैं? एल्डोल संघनन का उदाहरण क्या होता है? इसके बारे में विस्तार के साथ बताया है। इसके साथ साथ हमने आपको क्रॉस एल्डोल संघनन किसे कहते हैं? तथा क्रॉस एल्डोल प्रतिक्रिया नियंत्रण किसे कहते हैं इसके बारे में विस्तार के साथ बताया है। अब हम आपको जैविक एल्डोल प्रतिक्रिया के बारे में बताते हैं। जैव रसायन में एल्डोल प्रतिक्रिया के उदाहरण में फ्रुक्टोज-1,6-बिस्फोस्फेट का डायहाइड्रॉक्सीसिटोन और ग्लिसराल्डिहाइड-3-फॉस्फेट में ग्लाइकोलाइसिस के चौथे चरण में विभाजन शामिल है। जो एंजाइम के द्वारा उत्प्रेरित एल्डोल अभिक्रिया का उदाहरण होता है।

संतुलित रासायनिक समीकरण क्या है?

निष्कर्ष

आज के इस आर्टिकल में हमने आपको एल्डोल संघनन अभिक्रिया किसे कहते हैं? एल्डोल संघनन का उदाहरण क्या होता है? इसके बारे में विस्तार के साथ बताया है। इसके साथ साथ हमने आपको क्रॉस एल्डोल संघनन किसे कहते हैं? तथा क्रॉस एल्डोल प्रतिक्रिया नियंत्रण किसे कहते हैं इसके बारे में विस्तार के साथ बताया है। यह एक महत्वपूर्ण टॉपिक है। इस टॉपिक से सम्बंधित प्रश्न परीक्षाओं में पूछ लिए जाते हैं। इसलिए इस टॉपिक के बारे में सभी स्टूडेंट्स को पता होना चाहिए। इसी प्रकार के महत्वपूर्ण टॉपिक की जानकारी हम अपनी वेबसाइट पर देते रहते हैं। इसी प्रकार के अन्य महत्वपूर्ण जानकारी पाने के लिए जुड़े रहिए हमारी हिंदी केमिस्ट्री की इस वेबसाइट के साथ तब तक के लिए धन्यवाद।

 

SOCIAL SHARE

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *