वियोजन अभिक्रिया किसे कहते हैं? इसके उदाहरण, सूत्र और प्रकार

वियोजन अभिक्रिया किसे कहते हैं
4.3/5 - (39 votes)

दोस्तों स्वागत है आपका हमारी हिंदी केमिस्ट्री की इस वेवसाइट पर। आज के इस आर्टिकल में हम आपको वियोजन अभिक्रिया किसे कहते हैं? वियोजन अभिक्रिया के उदाहरण क्या होते हैं? वियोजन अभिक्रिया के प्रकार कितने होते हैं? वियोजन अभिक्रिया का सूत्र क्या होता है?वियोजन अभिक्रिया का समीकरण क्या होता है। इसके बारे में विस्तार के साथ बताएँगे। इसके साथ साथ हम आपको वियोजन अभिक्रिया को संयोजन अभिक्रिया के विपरीत क्यों कहा जाता है? इसके बारे में विस्तार के साथ बताएँगे। यह एक बहुत महत्वपूर्ण टॉपिक है जिसके बारे में परीक्षा में प्रश्न पूछ लिए जाते हैं। इसलिए केमिस्ट्री से सम्बंधित सभी स्टूडेंट्स को इस टॉपिक के बारे में जरूर पता होना चाहिए।

पिछले आर्टिकल में हमने आपको विस्थापन अभिक्रिया किसे कहते हैं? इसके बारे में विस्तार से बताया। जो एक महतवपूर्ण टॉपिक है जिसके बारे में सभी स्टूडेंट्स को पता होना चाहिए। यदि आपने अभी तक इस टॉपिक को नहीं पढ़ा है तो आप हमारी हिंदी केमिस्ट्री की इस वेबसाइट से इस महत्वपूर्ण टॉपिक को पढ़ सकते हैं। आज के इस आर्टिकल में हम आपको वियोजन अभिक्रिया किसे कहते हैं तथा वियोजन अभिक्रिया के उदाहरण क्या होते हैं? इसके बारे में बताने वाले हैं। वियोजन अभिक्रिया से सम्बंधित जानकारी पाने के लिए इस टॉपिक को अंत तक जरूर पढ़े। ताकि यह टॉपिक आपको अच्छे से समझ आ सके। तो विना किसी देरी के शुरू करते हैं आजका टॉपिक।

दूध का रासायनिक सूत्र

वियोजन अभिक्रिया किसे कहते हैं (परिभाषा)

वियोजन अभिक्रिया वह रासायनिक अभिक्रिया है जिसमे अवयवी तत्व छोटे छोटे कणों में विभाजित हो जाते हैं। वह अभिक्रिया ऊष्मा, प्रकाश, ताप, विद्युत से संपन्न होती है। अथवा ऐसी रासायनिक अभिक्रिया जिसमे कोई पदार्थ अभिक्रिया के बाद दो या दो दो से अधिक उत्पाद प्रदान करता है। अर्थात दो या दो से अधिक यौगिक का निर्माण करता है। जिसका गुण उसके मूल यौगिस से विल्कुल अलग होता है उस रासायनिक अभिक्रिया को वियोजन अभिक्रिया कहते हैं।

वियोजन अभिक्रिया के उदाहरण

वियोजन अभिक्रिया के उदाहरण निम्नलिखित हैं।

1. जब कैल्सियम कार्बोनेट (चूना पत्थर) को गर्म किया जाता है तो यह वियोजित होकर कैल्शियम ऑक्साइड और कार्बन डाईऑक्साइड का निर्माण करता है।

CaCO3 __________> CaO + CO2

2. जब फेरस सल्फेट को एक टेस्ट ट्यूब में गर्म किया जाता है तो फेरस सल्फेट वियोजित हो जाता है और फेरिक ऑक्साइड, सल्फर ऑक्साइड तथा सल्फर ट्राईऑक्साइड का निर्माण करता है।

2FeSO4 ________> Fe2O3 + SO2 + SO3

वियोजन अभिक्रिया के प्रकार

इससे ऊपर के लेख में हमने आपको वियोजन अभिक्रिया किसे कहते हैं इसके बारे में बताया। अब हम आपको वियोजन अभिक्रिया के प्रकार के बारे में बताएँगे। वियोजन अभिक्रिया निम्नलिखित तीन प्रकार की होती है।

  1. ऊष्मीय वियोजन अभिक्रिया
  2. विद्युत वियोजन अभिक्रिया
  3. प्रकाशीय वियोजन अभिक्रिया

1. ऊष्मीय वियोजन अभिक्रिया

ऐसी रासायनिक अभिक्रिया जिसमे कोई पदार्थ अभिक्रिया के बाद दो या दो दो से अधिक उत्पाद प्रदान करता है। अर्थात दो या दो से अधिक यौगिक का निर्माण करता है। जिसका गुण उसके मूल यौगिस से विल्कुल अलग होता है उस रासायनिक अभिक्रिया को वियोजन अभिक्रिया कहते हैं। जब किसी पदार्थ की वियोजन की अभिक्रिया ऊष्मा देने पर होती है तो उसे ऊष्मीय वियोजन कहते हैं।

उदाहरण- जब पोटेशियम क्लोरेट का ऊष्मा के द्वारा अपघटन कराया जाता है तो वह पोटेशियम क्लोराइड और ऑक्सीजन में वियोजित हो जाता है।

2KClO___ऊष्मा _____> 2KCl + 3O2

जब कार्बन डाईऑक्साइड का ऊष्मा के द्वारा वियोजन कराया जाता है तो वह कार्बन और ऑक्सीजन में वियोजित हो जाता है।

CO2 __ऊष्मा___> C + O2

ऊष्मीय वियोजन अभिक्रिया

2. विद्युत वियोजन अभिक्रिया

ऐसी रासायनिक अभिक्रिया जिसमे कोई पदार्थ अभिक्रिया के बाद दो या दो दो से अधिक उत्पाद प्रदान करता है। अर्थात दो या दो से अधिक यौगिक का निर्माण करता है। जिसका गुण उसके मूल यौगिस से विल्कुल अलग होता है उस रासायनिक अभिक्रिया को वियोजन अभिक्रिया कहते हैं। जब रासायनिक अभिक्रिया में यौगिक को विद्युत द्वारा वियोजित कराया जाता है तो इसे विद्युत वियोजन कहते हैं।

उदाहरण- जब सोडियम क्लोराइड का विद्युत द्वारा वियोजन कराया जाता है तो यह सोडियम और क्लोरीन गैस में वियोजित हो जाता है।

2NaCl ____विद्युत वियोजन____> 2Na + Cl2

जब जल का विद्युत द्वारा वियोजन कराया जाता है तो यह हाइड्रोजन और ऑक्सीजन गैस में वियोजित हो जाता है।

2H2____विद्युत वियोजन____> 2H2 + O2

3. प्रकाशीय वियोजन अभिक्रिया

ऐसी रासायनिक अभिक्रिया जिसमे कोई पदार्थ अभिक्रिया के बाद दो या दो दो से अधिक उत्पाद प्रदान करता है। अर्थात दो या दो से अधिक यौगिक का निर्माण करता है। जिसका गुण उसके मूल यौगिस से विल्कुल अलग होता है उस रासायनिक अभिक्रिया को वियोजन अभिक्रिया कहते हैं। जब वियोजन अभिक्रिया सूर्य के प्रकाश की उपस्थिति में होती है तो उसे प्रकाशीय वियोजन अभिक्रिया कहते हैं।

जब सिल्वर क्लोराइड को सूर्य की रौशनी में रखा जाता है तो यह वियोजित होकर सिल्वर और क्लोरीन का निर्माण करता है यह एक सफेद पाउडर होता है जो सूर्य की रोशनी में ग्रे रंग का हो जाता है।

2AgCl __________> 2Ag + Cl2

सिल्वर ब्रोमाइड एक हल्का पीला पाउडर होता है जो सूर्य की रौशनी पढ़ते ही ग्रे रंग का हो जाता है।

2AgBr _________> 2Ag + Br2

जब लेड नाइट्रेट को गर्म किया जाता है तो यह वियोजित होकर लेड ऑक्साइड, नाइट्रोजन ऑक्साइड और ऑक्सीजन का निर्माण करता है।

2Pb(NO3)2 __________> 2PbO + 4NO2 + O2

वियोजन अभिक्रिया और संयोजन अभिक्रिया में अंतर

इससे ऊपर के लेख में हमने आपको वियोजन अभिक्रिया किसे कहते हैं? वियोजन अभिक्रिया कितने प्रकार की होती है इसके बारे में विस्तार से बताया है। अब हम आपको वियोजन अभिक्रिया और संयोजन अभिक्रिया में क्या अंतर होता है इसके बारे में बताएँगे।

संयोजन अभिक्रिया

इस अभिक्रिया में दो या दो से अधिक पदार्थ परस्पर संयोग करके एक पदार्थ बनाते हैं या जब दो अभिकारक मिलकर एक उत्पाद का निर्माण करते हैं तथा जिसका गुण उसके मूल अभिकारको से विल्कुल अलग होता है ऐसी रासायनिक अभिक्रिया संयोजन अभिक्रिया कहलाती है। ये क्रिया एक या एक से अभिक पदार्थ के पारस्परिक संयोग से पूर्ण होती है।

 NH3 + HCl _________>NH4Cl

वियोजन अभिक्रिया

वियोजन अभिक्रिया वह रासायनिक अभिक्रिया है जिसमे अवयवी तत्व छोटे छोटे कणों में विभाजित हो जाते हैं। वह अभिक्रिया ऊष्मा, प्रकाश, ताप, विद्युत से संपन्न होती है। अथवा ऐसी रासायनिक अभिक्रिया जिसमे कोई पदार्थ अभिक्रिया के बाद दो या दो दो से अधिक उत्पाद प्रदान करता है। अर्थात दो या दो से अधिक यौगिक का निर्माण करता है। जिसका गुण उसके मूल यौगिस से विल्कुल अलग होता है उस रासायनिक अभिक्रिया को वियोजन अभिक्रिया कहते हैं।

CaCO3 __________> CaO + CO2

निष्कर्ष

आज के इस आर्टिकल में हमने आपको वियोजन अभिक्रिया किसे कहते हैं? वियोजन अभिक्रिया के उदाहरण क्या होते हैं? वियोजन अभिक्रिया के प्रकार कितने होते हैं? अभिक्रिया का समीकरण क्या होता है। इसके बारे में विस्तार के साथ बताया है।  इसके साथ साथ हम आपको वियोजन अभिक्रिया को संयोजन अभिक्रिया के विपरीत क्यों कहा जाता है इसमें क्या अंतर है? इसके बारे में विस्तार के साथ बताया है। यह एक बहुत महत्वपूर्ण टॉपिक है। इसलिए केमिस्ट्री से सम्बंधित सभी स्टूडेंट्स को इस टॉपिक के बारे में जरूर पता होना चाहिए। केमिस्ट्री से सम्बंधित इसी प्रकार के टॉपिक की जानकारी पाने के लिए जुड़े रहिए हमारी हिंदी केमिस्ट्री की वेबसाइट के साथ तब तक के लिए धन्यवाद।

 

One Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *