फार्मिक अम्ल का सूत्र क्या है? उपयोग, बनाने की विधि तथा IUPAC नाम

फार्मिक अम्ल का सूत्र
5/5 - (1 vote)

दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हम आपको फार्मिक अम्ल का सूत्र क्या होता है फार्मिक अम्ल बनाने की विधि क्या होती है फार्मिक अम्ल का आईयूपीएसी नाम होता है तथा फॉर्मिक अम्ल के उपयोग क्या होते हैं इसके बारे में बताएंगे। फार्मिक अम्ल का सूत्र एक महत्वपूर्ण टॉपिक है इस टॉपिक के बारे में केमिस्ट्री के सभी छात्रों को पता होना चाहिए। क्योंकि इस टॉपिक से संबंधित प्रश्न अक्सर परीक्षाओं में पूछ लिए जाते हैं। यदि आप फार्मिक अम्ल का सूत्र क्या होता है तथा इसका उपयोग क्या होते हैं उसके बारे में जानना चाहते हैं तो इस आर्टिकल को अंत तक जरूर पढ़ें।

इससे पिछले आर्टिकल में हमने आपको एसिटिक अम्ल का सूत्र क्या है? इसके बारे में बताया। जो एक बहुत ही महत्वपूर्ण टॉपिक है इसके बारे में यदि आपने नहीं पढ़ा है तो आप हमारी इस वेबसाइट से एसिटिक अम्ल के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। आज के इस आर्टिकल में हम आपको फार्मिक अम्ल का सूत्र क्या होता है फार्मिक अम्ल की बनाने की विधि तथा इसके उपयोग के क्या होते हैं इसके बारे में बताने वाले हैं। यदि आप इस आर्टिकल को अंत तक पढ़ते हैं तो आपको फार्मिक अम्ल से सम्बंधित अच्छी जानकारी प्राप्त हो जाएगी।

कार्बन चक्र क्या है?

फार्मिक अम्ल का सूत्र क्या है?

फार्मिक अम्ल एक प्रकार का कार्बनिक यौगिक होता है। फार्मिक अम्ल शहद की मक्खियों, लाल चीटियों, बर्रों के डंक में पाया जाता है। जब यह कीड़े काटते या डंक मारते हैं। तो थोड़ा सा  फार्मिक अम्ल शरीर में चला जाता है। जिस कारण उस स्थान पर जलन होने लगती है और वह स्थान थोड़ा फूल जाता है और उस स्थान पर दर्द होने लगता है। यदि आप किसी भी अम्ल की पहचान करना चाहते हैं तो आप लिटमस पेपर का उपयोग कर सकते हैं या आप उसका पीएच मान ज्ञात कर सकते हैं। फार्मिक अम्ल को मेथेनोइक अम्ल के नाम से भी जाना जाता है। यह कर्बोक्जिलिक समूह के अंतर्गत आता है। फार्मिक अम्ल कर्बोक्जिलिक समूह का प्रथम सदस्य होता है। इसका रासायनिक सूत्र HCOOH होता है। इस यौगिक में एक कार्बन परमाणु, दो हाइड्रोजन परमाणु और दो ऑक्सिजन

फार्मिक अम्ल का सूत्र = HCOOH

कार्बन मोनोऑक्साइड क्या है?

फार्मिक अम्ल बनाने की विधि

इससे ऊपर के लेख में हमने आपको फार्मिक अम्ल क्या होता है तथा फार्मिक अम्ल का सूत्र क्या होता है इसके बारे में बताया है। अब हम आपको फार्मिक अम्ल बनाने की विधि के बारे के बारे में बताएँगे। फार्मिक अम्ल को निम्नलिखित विधि द्वारा ज्ञात किया जा सकता है।

फार्मिक अम्ल बनाने की प्रयोगशाला विधि

फार्मिक अम्ल को बनाने के लिए एक आसवन फ्लास्क लेते हैं और उस आसवन फ्लास्क में 35 ग्राम क्रिस्टलीय ऑक्सेलिक अम्ल और 40 मिली  निर्जल ग्लिसरीन का मिश्रण लेते हैं। इस मिश्रण को 110 डिग्री ताप पर गर्व करते हैं। जब कार्बन डाइऑक्साइड निकलना बंद हो जाए तो तो ऑक्जेलिक अम्ल के कुछ क्रिस्टल मिश्रण में मिला देते हैं। इस तरह से फार्मिक अम्ल तथा जल का मिश्रण फ्लास्क में एकत्रित हो जाते हैं।

Formic Acid in Hindi
Formic Acid in Hindi

फार्मिक अम्ल के गुण

ऊपर के आर्टिकल में हमने आपको फार्मिक अम्ल का सूत्र क्या होता है फार्मिक अम्ल बनाने की विधि क्या होती है? इसके बारे में बताया है। अब हम आपको और फार्मिक अम्ल के गुण कौन से होते हैं। इसके बारे में बताएँगे। तो बिना किसी देरी के आइए जानते हैं फार्मिक अम्ल के गुण के बारे में। फार्मिक अम्ल के गुण निम्नलिखित हैं।

  • फार्मिक अम्ल एक कार्बनिक यौगिक होता है इसका रासायनिक सूत्र HCOOH होता है इसका आईयूपीएसी नाम मेथेनोइक अम्ल होता है।
  • फार्मिक अम्ल कर्बोक्जिलिक समूह का प्रथम सदस्य होता है।
  • फार्मिक अम्ल का गलनांक 8.4 oC होता है। जोकि बहुत अधिक नहीं होता है।
  • फार्मिक अम्ल का क्वथनांक 100.8oC होता है। इसका क्वथनांक पानी से थोड़ा कम होता है।
  • यह एक प्रकार का संक्षारक पदार्थ होता है। जो किसी की त्वचा के सम्पर्क में आने पर उसपर फफोले पैदा कर देता है।
  • फार्मिक अम्ल जल, अल्कोहल और ईथर में विलय होता है।

हाइड्रोकार्बन क्या है?

फार्मिक अम्ल के उपयोग

ऊपर के आर्टिकल में हमने आपको फार्मिक अम्ल का सूत्र क्या होता है फार्मिक अम्ल बनाने की विधि क्या होती है? तथा फार्मिक अम्ल के गुण क्या होते कौन से होते हैं इसके बारे में बताया है अब हम आपको फार्मिक अम्ल के उपयोग कौन से होते हैं इसके बारे में बताने वाले हैं तो बिना किसी देरी के आइए जानते हैं। फार्मिक अम्ल के उपयोग के बारे में। फार्मिक अम्ल के उपयोग निम्नलिखित हैं।

  • फार्मिक अम्ल का उपयोग सूती कपड़ा और उनकी रंगाई में किया जाता है।
  • फार्मिक अम्ल का उपयोग रबड़ के स्कंदन में किया जाता है।
  • इसका उपयोग गठिया रोग में औषधि के रूप में भी किया जाता है।
  • फार्मिक अम्ल का उपयोग चमड़ा उद्योग में किया जाता है।
  • इसके अलावा फार्मिक अम्ल का उपयोग ऑक्जेलिक अम्ल के निर्माण में किया जाता है।
  • फार्मिक अम्ल का उपयोग प्रतिरोधी के रूप में किया जाता है।
  • फार्मिक अम्ल का उपयोग फलों के संरक्षण में किया जाता है।
  • इसका उपयोग रबड़ के स्कंदनकारक के रूप में किया जाता है।
Formic Amla ka Sutra
Formic Amla ka Sutra

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न (FAQs)

प्रश्न – फार्मिक अम्ल का PH मान कितना होता है?

उत्तर – फार्मिक अम्ल एक कार्बनिक यौगिक होता है इसका pH मान 3.25 होता है।

प्रश्न – फॉर्मिक एसिड का महत्व क्या होता है? 

उत्तर – फॉर्मिक एसिड सबसे सरल कार्बोजिलिक अम्ल होता है फॉर्मिक एसिड का रासायनिक सूत्र HCOOH होता है। ये अम्ल शहद की मक्खियों, लाल चीटियों, बर्रों के डंक में पाया जाता है।

एसिटिक अम्ल का सूत्र क्या है?

निष्कर्ष

आज के इस आर्टिकल में हमने आपको फार्मिक अम्ल का सूत्र क्या होता है फार्मिक अम्ल बनाने की विधि क्या होती है फार्मिक अम्ल का आईयूपीएसी नाम होता है तथा फॉर्मिक अम्ल के उपयोग क्या होते हैं इसके बारे में बताया है। यह एक महत्वपूर्ण टॉपिक है इस टॉपिक के बारे में सभी छात्रों को पता होना चाहिए। इसी प्रकार के आर्टिकल की जानकारी हम अपनी इस वेबसाइट पर देते रहते हैं इसी तरह के अन्य आर्टिकल की जानकारी पाने के लिए “हिंदी केमिस्ट्री” की वेबसाइट पर जुड़े रहिए।

SOCIAL SHARE

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *